Wednesday , November 20 2019

Pi Health:: अगर आपको इस प्रदूषित माहौल में रहना हैं स्वस्थ, तो आज से अपनाएं ये घरेलू नुस्खे !!!

(Pi Bureau)

वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर ने हमारे आसपास ऐसा जहर घोल रखा है कि सांस लेना भी मुश्किल हो गया है। लेकिन इस प्रदूषण का सबसे ज्यादा असर देश की राजधानी दिल्ली में देखने को मिल रहा है। हर ढलते दिन के साथ दिल्ली की हवा की गुणवत्ता खराब होती जा रही है। इस खराब हवा से लोगों को कई गंभीर बीमारियां भी हो रही हैं। वहीं खांसी-जुकाम, गले व आंखों में इंफेक्शन जैसी समस्याओं से लगभग सभी लोग परेशान हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में बताएंगे, जिससे आप प्रदूषण से होने वाली समस्या से निजात पा सकते हैं।

फेफड़ो के राहत के लिए

इस प्रदूषित माहौल में हर सांस के साथ न जाने कितने बैक्टीरिया हमारे शरीर में प्रवेश कर रहे हैं। ऐसे में हमें अपने फेफड़ों का विशेष ख्याल रखना चाहिए। शहद में काली मिर्च मिलाकर खाने से फेफड़ों में जमी कफ और गंदगी बाहर निकल जाती है। इसके अलावा गर्म दूध पीकर फेफड़ों को धूल के कणों से बचाया जा सकता है।

आंखो के लिए गुलाब जल

आंखों की सुरक्षा के लिए प्रदूषित हवा में निकलने से पहले चशमा जरूर पहनें। प्रदूषण में बाहर निकलने के कारण हमारी आंखों में जलन होने लगती है। आंखों को राहत देने के लिए रोजाना सोने से पहले आंखों में गुलाब जल की दो-दो बूंदे डालें। ऐसा करनने से आंखों को राहत मिलती है।

इम्यून सिस्टम के लिए दूध और हल्दी

प्रदूषण सीधे हमारे इम्यून सिस्टम पर वार करता है। इस्यून सिस्टम के कमजोर हो जाने से हमारे शरीर को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इससे बचने के लिए आवंला बहुत ही उपयोगी है। आप आंवले को सब्जी, मुरब्बा या चटनी के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं, प्रदूषण के कणों को शरीर से बाहर करने के लिए दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पिएं। ये शरीर को डिटॉक्स करने का काम करता है।

गले को दें ऐसे राहत

इस धुएं भरे प्रदूषण में बाहर निकलने से कई लोगों को गले की परेशानी हो रही है। अगर प्रदूषण की वजह से गले में दर्द महसूस हो रहा हो, तो भाप ले सकते हैं। इससे आराम न आए तो डॉक्टर से चेकअप जरूर करवाएं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com