Lok Sabha Election 2019 : यूपी से भाजपा के 29 उम्मीदवारों की सूची जारी, पूर्वांचल में बड़ा उलटफेर

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के लिए उम्मीदवारों की एक और सूची जारी की है। इस सूची में पार्टी ने उत्तर प्रदेश की 29 सीटोंं पर उम्मीदवारों की घोषणा की है। भाजपा की सूची के मुताबिक उत्तर प्रदेश की कानपुर सीट से सत्यदेव पचौरी को टिकट दिया गया है। वहीं, प्रयागराज से रीता बहुगुणा जोशी को मैदान में उतारा गया है। इसके अलावा वरुण गांधी और मेनका गांधी के एक दूसरे के वर्तमान सीटों को बदल दिया गया है। अब वरुण गांधी पीलीभीत तथा मेनका गांधी सुल्तानपुर से चुनाव लड़ेंगी।

उम्मीदवारों की सूची 
चंदौली- महेन्द्रनाथ पांडे
गाजीपुर- मनोज सिन्हा 
सुल्तानपुर- मेनका गांधी
पीलीभीत- वरुण गांधी
इटावा- राम शंकर कटारिया
प्रयागराज-रीता बहुगुणा जोशी 
कानपुर- सत्यदेव पचौरी
बलिया- बीरेंद्र सिंह मस्त
रामपुर- जयप्रदा
धौरहरा- रेखा वर्मा
फरुक्खाबाद- मुकेश राजपूत
कन्नौज- सुब्रत पाठक
अकबरपुर- देवेंद्र सिंह भोले
जालौन – भानु प्रताप वर्मा
हमीरपुर- पुष्पेंद्र सिंह चंदेल
फतेहपुर- साध्वी निरंजन ज्योति
कौशांबी- विनोद सोनकर
बाराबंकी उपेंद्र रावत
फैजाबाद- लल्लू सिंह
बहराइच- अक्षयबर नाथ गौड़
कैसरगंज- ब्रजभूषण शरण सिंह
श्रावस्ती- ददन मिश्रा
गोंडा कीर्तिवर्धन सिंह
डूमरियागंज- जगदंबिका पाल
बस्ती- हरीश द्विवेद्वी
महराजगंज- पंकज चौधरी
कुशीनगर- विजय दूबे
बांसगांव- कमलेश पासवान
सलेमपुर- रविंद्र कुशवाहा

कई वर्तमान सांसदों की बदली गई सीट 
भाजपा ने यूपी की भदोही लोकसभा सीट से वर्तमान में सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त को इस बार बलिया सीट से दावेदार बनाया है, वहीं आगरा के सांसद रामशंकर कठेरिया अब इटावा सीट से प्रत्याशी बनाए गए हैं। वर्तमान में सुलतानपुर के सांसद वरुण गांधी अब अपनी मां मेनका गांधी की सीट पीलीभीत से चुनाव लड़ेंगे, वहीं मेनका वरुण की सीट पर लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। बहराइच सीट से वर्तमान सांसद सावित्री बाई फुले के भाजपा से बगावत करने के बाद अब यहां अक्षयवर लाल गौड़ को भाजपा से टिकट मिला है।

रीता बहुगुणा इलाहाबाद व सत्यदेव पचौरी कानपुर से
भाजपा ने केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को फिर गाजीपुर से ही प्रत्याशी बनाया है। जबकि उप्र की मंत्री रीता बहुगुणा जोशी को इलाहाबाद और सत्यदेव पचौरी को कानपुर सीट से प्रत्याशी बनाया है। उप्र भाजपा अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय को चंदौली से फिर मैदान में उतारा गया है।

जब मामूली वोट से हारे थे पचौरी
2004 में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा ने सत्यदेव पचौरी को उम्मीदवार बनाया था, लेकिन वह चुनाव हार गए थे। तब कांग्रेस के उम्मीदवार श्रीप्रकाश जायसवाल ने 2,11,109 वोट पाकर पचौरी को हराया था। तब पचौरी को 205, 471 वोट मिले थे। 2009 में पार्टी ने पचौरी को मौका नहीं दिया। उनके बदले में सतीश महाना मैदान में उतरे लेकिन श्रीप्रकाश जायसवाल से उन्हें भी हार का सामना करना पड़ा। 2014 के चुनाव में मोदी लहर ने काम किया और वाराणसी संसदीय सीट छोड़कर आए सांसद मुरली मनोहर जोशी ने कांग्रेस के श्रीप्रकाश जायसवाल को सांसद बनने से रोक दिया। इस चुनाव में श्रीप्रकाश करीब 2.22 लाख वोटों से हारे थे।

Loading...

About Politics Insight