मैं कांग्रेसी हूं, दोषियों पर कार्रवाई करें, सहयोग दूंगा-संजय दीक्षित !!!

(Pi Bureau)

 

लखनऊ : यूपीए के फ्लैगशिप कार्यक्रम के प्रदेश प्रभारी के प्रदेश प्रभारी संजय दीक्षित ने सीएम आदित्य नाथ योगी के नाम एक पत्र जारी करते हुये, उनसे मांग की है कि मनरेगा करोडो का घोटाला पूर्ववर्ती सरकारों के शासनकाल में हुआ है, जनता के बेहद गाढ़ी कमाई को सरकारी गठजोड़ ने लूटा गया है.उन्होंने कहा है कि मैं कांग्रेसी हूं, लेकिन दोषियों पर कार्रवाई चाहता हूं। मैं सहयोग करूंगा। तमाम जांच रिपोर्ट मेरे पास हैं। मेरी जांच के आधार पर ही दोषियों पर रिपोर्ट दर्ज हुईं और सीबीआई जांच कर रही है। प्रदेश में सुशासन के लिए आपको उपलब्ध कराऊंगा। पर आप मुझे उनपर कड़ी कार्यवाही के लिये आश्वस्त करें.

 

केंद्रीय काउंसिल में सदस्य रहते हुए संजय दीक्षित ने तमाम जगहों पर अपनी टीम के साथ भौतिक सत्यापन किया था और उसमें तमाम अनियमितता पाई थी। रिपोर्ट केंद्र सरकार को दी गई और उसके आधार पर मुकदमे दर्ज कराए गए। मामले की सीबीआई जांच के आदेश भी हुए थे लेकिन प्रदेश सरकार ने अभियोजन की स्वीकृति ही नहीं दी।

 

संजय दीक्षित ने पत्र में कहा कि “सीबीआई को जब प्रदेश सरकार से सहयोग नहीं मिला तो केंद्र में फिर फरियाद की गई और केंद्र ने अखिलेश सरकार को सहयोग करने के लिए पत्र लिखा था। बावजूद इसके किसी भी तरह की मदद नहीं की जा रही थी”। माना जा रहा था कि पिछली प्रदेश सरकार के कुछ करीबियों की गर्दन इस जांच में फंस रही थी इसलिए पिछली सरकार मनरेगा पर मुंह पर दही जमाये रही और किसी भी कार्यवाही के लिए सहयोग नहीं किया.

संजय दीक्षित ने कहा कि अब सरकार बदल गई है और बेहतर होगा कि वह केंद्र सरकार द्वारा पहले जारी पत्र पर अभियोजन की स्वीकृति दें। दोषियों को जेल भेजें।

Loading...