उत्तर प्रदेश में बड़ा फेरबदल, 20 IAS अधिकारियों का तबादला, कई को वोटिंग लिस्ट में डाला !!!

(Pi Bureau)

 

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपनी दूसरी कैबिनेट के बाद बड़े पैमाने पर प्रशासनिक उलट फेर करते हुये 20 आईएएस अधिकारीयों का तबादला किया है । पिछली सरकार में प्रमुख सचिव रहे नवनीत सहगल को वोटिंग लिस्ट में डालते हुये उनके स्थान पर अवनीश कुमार अवस्थी को नया प्रमुख सचिव बनाया गया है । अवनीश कुमार अवस्थी अभी तक वोटिंग लिस्ट में थे . अवनीश कुमार अवस्थी को लेकर योगी सरकार ने मोदी को चिट्ठी लिखी थी कि उनको पदमुक्त करके उत्तर प्रदेश भेजा जाये.वहीं नोएडा अथॉरिटी के चेयरमैन रमा रमण को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है, वहीं उनकी जगह मेरठ के कमीश्नर आलोक सिन्हा को नई जिम्मेदारी सौंपी गयी है ।

सरकार बनने के बाद सबसे पहले प्रशासनिक उलटफेर में फिलहाल पहली लिस्ट में 20 अधिकारियो को चिन्नित किया है. तबादलों की लिस्ट में अपर मुख्य सचिव गुरदीप सिंह को भी वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। भुवनेश कुमार को लखनऊ के कमीश्नर पद के अतिरिक्त भार से मुक्त कर व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के सचिव पद का जिम्मा दिया गया है। वहीँ बाल विकास विभाग की प्रमुख सचिव डिंपल वर्मा को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। राजस्व परिषद के सदस्य राज प्रताप सिंह को अपर मुख्य सचिव बनाया गया है। अनीता सी मेश्राम को बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है। मुकेश मेश्राम को प्राविधिक शिक्षा विभाग के पद के अतिरिक्त प्रभार से मुक्त कर सिर्फ वाणिज्य कर विभाग के आयुक्त का जिम्मा दिया गया है। इसके अलावा भुवनेश कुमार को प्राविधिक शिक्षा विभाग के सचिव पद का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है।

 

यूपीएसआईडीसी के एमडी अमित घोष को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग के निदेशक रणवीर प्रसाद को वर्तमान पद के साथ-साथ यूपीएसआईडीसी और लघु उद्योग निगम के आयुक्त और निदेशक पद का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। नागरिक उड्डयन और राज्य सम्पत्ति विभाग की प्रमुख सचिव अनीता सिंह को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। संस्कृति विभाग के सचिव डॉ. हरिओम को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है।

 

आबकारी विभाग के आयुक्त मृत्युंजय कुमार नारायण को इसके अलावा सीएम के सचिव, नागरिक उड्डयन, राज्य सम्पत्ति, संस्कृति विभाग के निदेशक की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। आमोद कुमार को विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी विभाग के सचिव पद से हटाकर राजस्व परिषद का सदस्य बनाया गया है। आवास एवं शहरी नियोजन विभाग के सचिव पन्धारी यादव को अब राजस्व परिषद का सदस्य बनाया गया है। ग्रेटर नोएडा, नोएडा और गौतमबुद्धनगर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है। प्रदेश के निवेश आयुक्त अमित मोहन प्रसाद को वर्तमान पद के साथ नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गौतमबुद्धनगर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। इसके अलावा जीडीए (गाजियाबाद डिवेलपमेंट अथॉरिटी) के वीसी विजय कुमार यादव को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है।

 

Loading...