बच्चो को खूब खेलने दे मिटटी के मैदानों में , एक्स्ट्रा हाईजिन खतरनाक !!!(Must Read)

(Pi Bureau)

 

लखनऊ : नए ज़माने की एक्स्ट्रा कौसियुस महिलाये अक्सर अपने बढ़ते बच्चो को मिटटी के मैदानों से दूर रखती है । बात बात में उनके हाथ सैनिटाइज़ करती है , तो वह महिलाये हो जाये सावधान । वह खुद अपने बच्चो के स्वास्थ और उनकी इम्यून सिस्टम को ख़राब कर रही है जाने अनजाने ।

संजय गांधी पीजीआई के पेट रोग विशेषज्ञ एवं रोम फाउंडेशन के चेयरमैन प्रो. यूसी घोषाल ने विश्व डाइजेस्टिव डे पर कहा कि बचपन को मिट्टी से दूर न करें। मिट्टी के दूर रहने के कारण बच्चों को इम्यून सिस्टम कमजोर हो रहा है जिसके कारण वह आटोइम्यून डिजीज के चपेट में आ रहे है। पहले यह बीमारी भारत में नहीं थी लेकिन आर्थिक सामाजिक प्रगति के साथ बच्चे धूल मिट्टी से दूर होते गए जिससे इम्यून सिस्टम ही इनका दुश्मन बन गया। क्रोन्स डिजीज में शरीर का इम्यून सिस्टम छोटी आंत, बडी आंत, आमाशय सहित पेट के अन्य हिस्से के खिलाफ एंटीबाडी बनाने लगता है जिससे इसमें घाव हो जाता है। 6.2 प्रति एक लाख में लोग इस बीमारी के शिकार है, डाक्टर इस परेशानी के शिकार 80 फीसदी लोग टीबी की दवाएं लंबे समय देते रहते है । दो महीने तक टीबी की दवा खिलाने के बाद राहत नहीं मिल रहा है तो हायर सेंटर पर इलाज के लिए भेजना चाहिए। इलाज के लिए एंटी ट्यूमर नेक्रोसिस फैक्टर अल्फा बायोलाजिकल दवाएं दी जाती है। क्रोन्स पता करने के लिए कोई खास जांच नहीं है, छोटी और बडी आंत की बायोप्सी कर पहले देखते है टीबी नहीं है तो दूसरे साक्ष्य के साथ कोरिलेट कर क्रोन्स का इलाज करते हैं। 10 फीसदी में पाइल्स की हो जाती है सर्जरीयह भी देखा गया है कि अल्स रेटिव कोलाइटिस और क्रोन्स से ग्रस्त 10 फीसदी मरीजों में पाइल्स समझ कर सर्जरी कर देते है लेकिन मरीज को आराम नहीं मिलता है। इस बीमारी से ग्रस्त लोगों में डायरिया, लैट्रिन में खून और शरीर के जोड़ो में दर्द की परेशानी होती है। एसजीपीजीआई, पीजीआई टेली मेडिसिन और स्प्रेड हेल्थ ने मिलकर जागरूकता कार्यक्रम शुरू किया है। टेली मेडिसिन के जरिए एनआरएस मेडिकल कालेज कोलकता, वर्धमान मेडिकल कालेज सहित कई मेडिकल कालेज के छात्र लाइव जुडे। स्प्रेड हेल्थ पर मिल सकती है पेट की हर जानकारी: प्रो. घोषाल ने बताया कि एसपीआरईएडीहेल्थ इन वेव साइट पर पेट से जुडी बीमारियों, इलाज और मरीज को क्या एहतियात बरतना है सहित अन्य जानकारी दी गयी है ।

Loading...