जीएसटी से मौज ही मौज : बाइक के बाद अब कारे सस्ती, अब मकानों की बारी !!!

(Pi Bureau)

 

25000 से ढाई लाख तक की छूट मिलेगी अलग अलग मॉडल पर

 

 

 

 

नई दिल्ली : कल जहाँ जीएसटी के चलते बाइक बाज़ार में गहमा गहमी थी और लगभग लूट मची थी वहीँ आज जीएसटी लागू होने से कीमतों में कटौती का इंतजार कर रहे कार ग्राहकों को रिझाने के लिए वाहन और रीयल एस्टेट कंपनियों ने कीमतों में भारी कटौती का ऐलान किया है। वाहन कंपनियों ने जहां कीमतों में 25000 रपए से लेकर 2.50 लाख रपए तक की छूट दी है वहीं जीएसटी लागू होने के बाद मकान भी सस्ते हो जाएंगे।जीएसटी लागू होने के ठीक 15 दिन पहले वाहन कंपनियों ने अनेक आकर्षक छूटों की पेशकश की हैं। मारुति, हुंडई, होंडा, निसान, महिंद्रा व फोर्ड सहित सभी प्रमुख वाहन कंपनियों ने विभिन्न योजनाओं की पेशकश की है जो कि सिर्फ जून के लिए वैध होंगी। मारुति सुजुकी के डीलर 25000 रपए से 35000 रपए तक की छूट की पेशकश कर रहे हैं। सबसे अधिक छूट तो कंपनी की कार आल्टो पर दी जा रही है। इसी तरह महिंद्रा एंड महिंद्रा अपनी गाड़ी स्कार्पियो व एक्सयूवी 500 पर 27000 रपए से लेकर 90000 रपए की छूट दे रही है। यह छूट 30 जून तक है।हुंडई के डीलर एलीट आई20 व एक्सेंट पर 25,000 रपए, सेंताफी पर 2.5 लाख रपए तक के दायरे में छूट दे रहे हैं। कंपनी इयोन, ग्रेंड आई10 व वरना पर भी छूट दे रही है। होंडा कार्स इंडिया ब्रायो पर 14500 रपए तक, अमेज पर 50000 रपए, जैज पर 17000 रपए व बीआरवी पर 60000 रपए की छूट दे रही हैं। फोर्ड इंडिया अपनी इकोस्पोर्ट, एस्पायर व फिगो पर 30000 रपए तक की छूट दे रही है। इसी तरह जापानी कंपनी निसान के डीलर एसयूवी टेरेनो पर 80000 रपए तक व छोटी कार माइक्रा पर 25000 रपए तक की छूट दे रहे हैं।उधर सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश में वस्तु एवं सेवा कर लागू होने पर फ्लैट एवं कॉम्पलेक्स के निर्माण पर सेवा कर की दर 12 प्रतिशत होगी जो वर्तमान में लग रहे कई करों की तुलना में कम है इससे जीएसटी लागू होने के बाद मकान और फ्लैट खरीदने वालों को कम रकम का भुगतान करना पड़ेगा।वित्त मंत्रालय ने कहा कि इस संबंध में शिकायतें मिली हैं कि जिन लोगों ने फ्लैट बुक करा रखा है और आंशिक भुगतान कर चुके हैं उन्हें एक जुलाई से पहले पूरा भुगतान करने या फिर एक जुलाई के बाद अधिक कर चुकाने के लिए तैयार रहने के लिए कहा जा रहा है अगर कोई बिल्डर ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Loading...