एलडीए का ‘ठेकेदार कक्ष’ शाम होते ही दारू के अड्डे में होता है तब्दील , जुयेंबाज़ी सहित तमाम गैरकानूनी काम को देते है अंजाम मनबढ़ ठेकेदार !!!

(Pi Bureau)

लखनऊ : एलडीए के गोमती नगर स्थित मुख्यालय पर देर शाम ठेकेदार कक्ष में सरकारी आदेशो को धता बताते हुये खुलेआम शराबखोरी सहित जुआ और दुसरे गैरकानूनी कामो का गवाह बन जाता है । पीआई संवाददाता के मुताबिक अक्सर इस कक्ष में इन्ही सब के चलते मार पीट भी होती है । जिसके चलते किसी भी दिन वहां बड़ा हादसा हो सकता है ।

बता दें , एलडीए के अधिशासी अभियन्ता आरके मखीजा ने प्राधिकरण के ठेकेदारों के विशेष आग्रह पर एलडीए की नयी बिल्डिंग में एक कक्ष आवंटित कर दिया था। एलडीए सचिव को इस कक्ष में रात में लोगों के इसमें बैठकर शराब पीने व अवैध काम करने की जानकारी मिली थी। इस पर उन्होंने कमरे में ताला डलवा दिया था। शुक्रवार को ताला तोड़ने पर सचिव ने यहां के ठेकेदार एसोसिएशन के खिलाफ एफआईआर कराने का आदेश दिया है। सचिव ने यहां ठेकेदार एसोसिएशन के कक्ष में ताला डलवा दिया था जिसे ठेकेदारों ने शुक्रवार की सुबह तोड़ दिया। जानकारी के बाद सचिव ने काफी नाराजगी जतायी। सचिव ने इस मामले में ठेकेदारों के खिलाफ एफआईआर का आदेश दिया है। एलडीए कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने भी इसकी आला अफसरों से शिकायत की थी जिसके बाद सचिव ने इस कक्ष में ताला डलवाने का आदेश किया था। सचिव के आदेश पर गुरुवार को कक्ष में ताला डाल दिया गया था। इसी के साथ इस कक्ष को प्राधिकरण ने अपने कब्जे में ले लिया था। शुक्रवार की सुबह इसका ताला ठेकेदारों ने तोड़ दिया। एलडीए कर्मचारियों ने इसकी जानकारी सचिव को दी तो वह खफा हुए। उन्होंने सहायक अभियन्ता वीके ओझा को बुलाकर तत्काल एफआईआर दर्ज कराने का आदेश किया। सचिव के आदेश के बाद कान्ट्रैक्टर वेलफेयर एसोसिएशन बैकफुट पर आ गया। ठेकेदार एसोसिएशन ने उपाध्यक्ष व सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि कक्ष का ताला किसी और ने तोड़ा है। ठेकेदारों व एसोसिएशन ने इसका ताला नहीं तोड़ा है। ताला टूटने की वजह से उनका यहा रखा सामान भी गायब हो गया है।

Loading...