लोकसभा चुनाव को लेकर बसपा ने शुरू की कवायद / कैडर के साथ की समीक्षा !!!

(Pi bureau)

 

लखनऊ : बसपा ने दो विधानसभा चुनावों और 14 के लोकसभा चुनाव में हुई जबरदस्त हार से उबरने के लिए गतिविधियां तेज कर दी हैं। दो वर्ष बाद होने वाले लोकसभा चुनाव पर पार्टी ने कार्यकर्ताओं को केंद्रित करने के प्रयास तेज कर दिये हैं। इसी कारण बसपा सुप्रीमो मायावती कैडर कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी संगठन की लगातार समीक्षा कर रही हैं।बसपा सरकार के एक पूर्व मंत्री ने बताया कि पार्टी ने वर्ष 2019 के लोस चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं और पार्टी नेताओं तथा कार्यकर्ताओं को काम बांटते हुए साफ कहा गया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में जाएं और बूथ स्तर से तैयारियां शुरू करें। उन्होंने संकेत दिये हैं कि बसपा विस चुनाव में मिली पराजय से सबक लेते हुए आगे बढ़ेगी। अगले लोस चुनाव में टिकट चाहने वालों का चयन जनता में उनकी छवि और स्वीकार्यता को देखकर किया जाएगा साथ ही उनके काम पर लगातार नजर भी रखी जाएगी। पिछले लोस चुनाव व प्रदेश विस चुनाव में सभी गैर-भाजपा दलों के बेहद खराब प्रदर्शन को देखते हुए इन पार्टियों के एक मंच पर आने की अटकलें भी जोरों पर हैं। सपा व बसपा द्वारा राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष की प्रत्याशी मीरा कुमार को समर्थन दिये जाने से ये अटकलें और तेज हो गयी हैं। बसपा मुखिया मायावती व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 27 अगस्त को पटना में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव की रैली में मंच साझा करने पर हामी भर दी है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक अगर भाजपा-विरोधी गठबंधन या मोर्चे में बसपा शामिल नहीं हुई तो वह अगले साल के अंत तक अगले लोस चुनाव के प्रत्याशियों की सूची जारी कर सकती है।

Loading...