बिना विपक्ष के चली विधानसभा की कार्यवाही, नेता विपक्ष ने लगाया तानाशाही का आरोप !!!

(Pi Bureau)

 

लखनऊ। 21 जुलाई 2017 : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का दूसरा विधानमंडल सत्र विपक्ष के लगातार बहिष्कार से बेहद चर्चा में है। मानसून सत्र में सरकार बजट पेश कर रही है, लेकिन समूचे विपक्ष ने दो दिनों से इसके खिलाफ बहिर्गमन कर रखा है। इसी की चलते आज विधानसभा की कार्यवाही 24 जुलाई को 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

इससे पहले विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी ने कहा कि योगी सरकार के राज में पूरे प्रदेश में इमरजेंसी जैसे हालात पैदा हो गये हैं। विधानमंडल सत्र में समाजवादी पार्टी तथा बहुजन समाज पार्टी व कांग्रेस ने शुक्रवार को एक साथ कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया। सभी ने अपने-अपने मुंह पर मास्क लगाकर और हाथ पर काली पट्टी बांधकर विधानसभा के बाहर पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के सामने विरोध प्रदर्शन किया।

 

विरोध प्रदर्शन के बाद विपक्ष के नेता रामगोबिंद चौधरी ने कहा कि वर्तमान सरकार तानाशाही रवैया अख्तियार कर रही है। विपक्ष की आवाज दबाने के साथ ही मीडिया कर्मियों के साथ भी दुर्व्यहार किया जा रहा है। इसीलिए समूचे विपक्ष ने आज चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के सामने मौन प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि पूरे विपक्ष ने यह फैसला किया है कि समूचा विपक्ष पूरे सत्र के दौरान सदन की कार्यवाही से दूर रहेगा।

 

गौरतलब है कि प्रदेश के विधानसभा के मानसून सत्र की कार्यवाही 11 जुलाई से शुरू हुई थी। जिसके तहत सत्र के पहले दिन ही योगी सरकार ने अपना पहला बजट भी पेश किया था। गुरूवार को भी प्रदेश सरकार ने अपने विभागों के बजट को पेश किया था। सरकार ने आज भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में कई विभागों का बजट पेश किया।

Loading...