योगी जी :क्या ये VVIP कल्चर नही है ?

(Pi Bureau)

लखनऊ । योगी सरकार ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को  आदेश दिया है कि उनके ज़िलों में पड़ने वाले सभी राजकीय और राष्ट्रीय हाइवेज पर टोल प्लाज़ा पर सभी सांसदों एवं विधायकों के लिए अलग से आनेजाने की व्यवस्था (special lane)की जाए जिससे  ‘माननीयों ‘को असुविधा का सामना न करना पड़े।बता दें कि सभी माननीयों को पहले से ही टोल प्लाज़ा पर कोई टोल शुल्क नहीं देना पड़ता है और अब उनके लिए टोल प्लाज़ा पर ‘ स्पेशल ‘ व्यवस्था का फ़रमान योगी सरकार से मिला है।

सवाल ये पैदा होता है कि योगी का यह फ़ैसला कहीं उस VVIP कल्चर को तो नहीं बढ़ावा दे रहा है  जिसका विरोध  मोदी ने किया है।मोदी ने VVIP कल्चर को समाप्त करने के लिए ठोस कदम उठाते हुए नीली बत्ती और लाल बत्ती की व्यवस्था को खत्म कर दिया था, ये व्यवस्था अब सिर्फ चंद खास लोगों और संस्थाओं के लिए सीमित कर दी गयी है और मोदी ने VVIP की जगह EPI(Every Person is important) की बात की थी।

योगी सरकार का यह फ़ैसला कहीं मोदी के फ़ैसले के विरूद्ध तो नहीं है….

Loading...