Dt.08.08.2017::योगी की 20 वी कैबिनेट-अखिलेश सरकार की एक और योजना का नाम बदला

(Pi Bureau)

 

योगी सरकार शहरी गरीबों के लिए बनाएगी एक लाख मकान….

 

 

योगी कैबिनेट की बैठक मंगलवार शाम को हुयी। इस बैठक में कई प्रस्तावों को मंजूरी मिली.

कैबिनेट के फैसले के मुतिबक उत्तर प्रदेश में इस साल शहरी गरीबों के लिए एक लाख मकान बनाए जाएंगे। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मुफ्त दिए जाने वाले इन मकानों के लिए प्रदेश सरकार हुडको से 1000 करोड़ रुपये का कर्ज लेगी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को हुयी कैबिनेट की बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी। मंत्रिपरिषद ने समाजवादी किसान बीमा योजना का नाम भी बदल दिया है। अब इसका नाम मुख्यमंत्री किसान बीमा योजना होगा। बंजर, ऊसर और बीहड़ भूमि को खेती योग्य बनाए जाने के लिए भी नयी परियोजना शुरु की जाएगी।

मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनने वाले मकानों की लागत का 60 फीसदी केंद्र जबकि 40 फीसदी राज्य सरकार वहन करेगी। योजना के तहत इस साल एक लाख मकान बनाए जाएंगे। प्रदेश सरकार इस योजना के लिए हुडको से 1000 करोड़ रुपये का कर्ज लेगी। शमाई ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने समाजवादी किसान बीमा योजना का नाम बदलने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। अब इसका नाम होगा मुख्यमंत्री किसान बीमा होगा।

आज की बैठक में रेरा के गठन को अंतिम मंजूरी देते हुए इसका प्रारुप भी पारित किया गया है। मंत्रिपरिषद ने बीहड़, बंजर, ऊसर सुधार के लिए एक नई योजना के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी है। इसका नाम  दीनदयाल किसान समृद्ध योजना होगा। इसी साल शुरु होने वाली पंडित दीनदयाल किसान समृद्धि योजना में 68 जिलों को शामिल किया गया है।

श्रीकांत शर्मा के मुताबिक इस योजना में 15186 हेक्टेयर ऊसर भूमि की कृषि योग्य बनाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होनें बताया कि इस परियोजना पर 477 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। मंत्रपरिषद ने इस खर्च का भी अनुमोदन किया है। एक अन्य प्रस्ताव में मंत्रिपरिषद ने फिल्मों पर एसजीएसटी लगाने को मंजूरी दी है।

कैबिनेट ने विधानसभा सत्रावसान को मंजूरी दी। अब 5 लाख का मुआवजा दुर्घटना होने पर दिया जाएगा।

Loading...