योगी सरकार लखनऊ मेट्रो का ले रही झूठा श्रेय : अखिलेश

(Pi Bureau) लखनऊ। समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर लखनऊ मेट्रो रेल को उतारने का झूठा श्रेय लेने का आरोप लगाते हुये कहा है कि वास्तव में इस परियोजना का उद्घाटन पिछले साल दिसंबर में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथों किया जा चुका है।

पार्टी ने इस संबंध में यहां प्रकाशित आज के समाचार पत्रों में विज्ञापन दिया है जिसमें अखिलेश यादव को मेट्रो ट्रेन को हरी झंडी दिखाते दर्शाया गया है। विज्ञापन का टाईटल है ‘मा0 अखिलेश यादव पूर्व मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश के सपनो की मेट्रो में अब लखनऊ करेगा सफर।’

पार्टी सूत्रों का कहना है कि मेट्रो रेल परियोजना अखिलेश सरकार की देन है। पूर्व मुख्यमंत्री के कार्यकाल में ही मेट्रो का काम पूरा हो चुका था और अखिलेश यादव ने परियोजना का उद्घाटन भी कर दिया था। सपा सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजना का श्रेय लेने के मकसद से भाजपा सरकार ने बाकायदा आयोजन कर मेट्रो रेल का एक बार फिर उदघाटन कराया। इससे पता चलता है कि झूठा श्रेय लेने के मामले में योगी सरकार कितनी तेज है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज ट्रांसपोर्ट नगर टर्मिनल से मेट्रो रेल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर राज्यपाल रामनाईक, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा के अलावा मंत्रिमंडल के कई सदस्य और अधिकारी मौजूद थे। पहले चरण में लखनऊ मेट्रो ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग के बीच कल से यात्रियों के लिये चलने लगेगी।

 

Loading...